रामबाण औषधि गाजर आयुर्वेद में काफी प्रशंसा की गई है

गाजर सर्दियों में बहुतायत से आने वाला फल है इसे पोस्टिक से भरपूर जड़ कहा जाता है गाजर की आयुर्वेद में प्रशंसा की गई है

आयुर्वेद के अनुसार,

गाजर शरीर के दूषित रक्त को साफ करती है अनावश्यक गर्मी को शांत करती है पाचन तंत्र अधिक सक्रियता से कार्य करता है
पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन और बहुत सारे पोस्टिक तत्व पाए जाते है इसमें पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन लोह तत्व विटामिन ए विटामिन डी खनिज लवण और कैल्शियम जैसे तत्व पाए जाते हैं।

गाजर आंखों की रोशनी के लिए रामबाण औषधि

गाजर में विटामिन ए की भरपूर उपस्थिति नेत्र रोगों को दूर करती है गाजर के सेवन से आंखों की रोशनी बढ़ती है जो लोग नियमित रूप से गाजर खाते हैं उन्हें कभी भी रतौंधी रोग का सामना नहीं करना पड़ता इसके साथ साथ रक्त कणों में वृद्धि रक्त शुद्धि तथा शरीर की रोग प्रतिरोधक शक्ति को बनाए रखती है क्योंकि इसमें लोह तत्व का महत्वपूर्ण योगदान रहता है गाजर के अंदर आयरन व फास्फोरस tatva पाया जाता है।
 

 गाजर का सेवन से अस्थियों और दांतों को मजबूती देना

गाजर के सेवन से अस्थियों और दांतो को मजबूती मिलती है इसमें कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन तत्व पाए जाते हैं जो शरीर को ऊर्जा प्रदान करते हैं फास्फोरस और कैल्शियम शरीर की अस्थियों और दांतो को मजबूती देते हैं

गाजर में संतुलित आहार के समस्त गुण

गाजर अनिद्रा और थकान से मुक्ति दिलाती है इसका सेवन बच्चों को दूध पिलाने वाली माताओं के लिए दुग्ध वर्धक होता है पेट के कीड़ों को नष्ट करता है नाक कान व गले के रोगों में भी गाजर का उपयोग लाभदायक है कब्ज खून की खराबी अपच और बच्चों की सामान्य कमजोरी मैं भी गाजर का सेवन उपयोगी होता है


Comments

Popular posts from this blog

KNOW ABOUT UNITED NATIONS ORGANIZATION (U N O) AND ITS ORGANS

What is the UNESCO and its functions?

What is the biggest irony in life? by a very good story.

Wikipedia

Search results